Chutkule news 7 Oct
Chutkule news 7 Oct

 

Hindi Chutkule: मैं जेल में एक कोठरी पोतने गया था

वकील (एक गवाह से): “क्या तुम कभी जेल गए हो?”

गवाह: “हां, एक बार.”

वकील (जज से): “अब आप ही देखिए कि स्वयं जेल हो आए हुए गवाह की बात पर कैसे विश्वास किया जा सकता है!”

जज (गवाह से): “तुम किस लिए जेल गए थे?”

गवाह: “मेरा काम पुताई करना है. मैं जेल में एक कोठरी पोतने गया था. उस कोठरी में एक वकील कैद था, जिस ने अपने मुवक्किलों को धोखा दिया था.”

😂😂😂

Majedar Chutkule : मेरा चेहरा सुंदर बना दीजिए

एक अधेड़ अवस्था की स्त्री एक सौंदर्य विशेषज्ञ के पास पहुंची,

और बोली, “मेरा चेहरा सुंदर बना दीजिए, इस की क्या फीस होगी?”

विशेषज्ञ ने जवाब दिया, “पांच हजार रुपए.”

स्त्री आश्चर्य से बोली, “यह तो बहुत ज्यादा है. कोई सस्ता नुस्खा नहीं है?”

विशेषज्ञ ने सलाह दी, “जी हां, है—आप घूंघट निकालना शुरू कर दीजिए.”

😂😂😂

Comedy Chutkule: सिनेमा जाने की तैयारी

पति पत्नी सिनेमा जाने की तैयारी में थे.

पत्नी शृंगारगृह में ही थी.

पति ने बाहर से ही पूछा, “अजी, अब आती हो या नहीं?”

पत्नी ने भीतर से ही जवाब दिया, “चुप भी करो. एक घंटे से कह रही हूं कि अभी एक मिनट में आती हूं, लेकिन तुम हो कि सुनते ही नहीं.”

😉😉😉

Aaj Ke Chutkule: रखवाली करता हूं

एक सड़क पर पत्थरों के एक ढेर पर एक लालटेन रखी थी.

पास ही में एक आदमी खड़ा था. इतने में एक कार वहां आ कर रुकी.

कार वाले ने उस आदमी से पूछा: “यहां यह लालटेन क्यों रखी है?” “

ताकि पत्थरों पर उजाला रहे, और लोग टकराएं नहीं.”

“ये पत्थर किस लिए रखे हैं यहां?” “ताकि इन पर लालटेन रखी जा सके.” “

तुम यहां क्या कर रहे हो?” “मैं? मैं शाम को लालटेन जलाता हूं और सुबह को बुझाता हूं. और रात में इस की रखवाली करता हूं.”

😂😂😂

ये भी पढ़े:

आप हमें फॉलो कर सकते हैं FacebookInstagramPinterest और Twitter पर